फिल्म अभिनेता एवं वरिष्ठ साहित्यकार सुनील दत्त मिश्रा ने वीडियो के माध्यम से आयोजकों एवं संचालकों का आभार जताया

श्याम बिल्दानी 'सादगी'

 सबसे पहले साहित्य के गुरु जनक बिलासपुर छत्तीसगढ़ के माननीय फिल्म अभिनेता व लेखक श्री सुनिल दत्त मिश्रा सर जी को मेरा सादर प्रणाम व आदर भरा चरण स्पर्श।और हम सब कलमकारों के जीवनी परिचय का भगवान श्री गणेश जी के वंदनीय पावन सानिध्य में सप्रेम भेंट द्वारा यह सुंदर मनमोहक वीडियो संग्रह के लिए आपको हार्दिक साधुवाद व ढ़ेर सारी शुभकामनाएं।



सहर्ष मन से सभी मऺचो को अपना बहुमूल्य समय देकर व कार्यक्रमों में अपना लाजवाब मऺच सऺचालन से सभी साहित्य प्रेमियों के दिलों में अपनी विशिष्ट पहचान बनाने वाले आदरणीय फिल्म अभिनेता व लेखक श्री सुनिल दत्त मिश्रा सर जी की जितनी भी तारीफ की जाए वह कम है।नई युवा साहित्यकार पीढ़ी की प्रतिभा को निखारने और उन्हें साहित्य रंगमंच से जोड़ने तथा सुंदर काव्य सृजन के साथ-साथ उनकी कल़म की प्रशंसा करने के लिए हमारे श्री सुनिल सर जी हर पल हर घड़ी निस्वार्थ होकर अपनी अनमोल अभूतपूर्व सेवाएं देते आ रहे है। मेरी कल़म को मनचाही प्रगती दिलाने वाले कोई ओर नही बल्कि हमारे गुरु जनक फिल्म अभिनेता व लेखक श्री सुनिल दत्त मिश्रा सर जी ही है। साहित्य के रंगमंच में अपनी प्रतिभा का मजबूत सिक्का ठोकनेऺ वाले और गुजरात के श्री राजैऺन्द्र त्रिवेदी के शुभ हाथों ब्राह्मण रत्न का सम्मान पाने वाले  तथा अखिल भारतीय साहित्यिक मऺच, क़लम की क़लम से राष्ट्रीय साहित्य मऺच,श्री भारत (कवि सम्मेलन) वाट्सएप पटल,उदय कमल साहित्य सऺगम मऺच, गांधी नगर साहित्य सऺस्थान,पऺ.शऺकर प्रसाद जी स्मृति में श्री कान्यवुब्ज सामाजिक सम्मान से सुंदर से सुंदर आकर्षक विजयी प्रमाणपत्र पाने वाले व अपनी प्रतिभा हुनर से देश के चारों दिशाओं से वाह-वाही। बटोरने वाले ऐसे हमारे माननीय आदरणीय फिल्म अभिनेता व लेखक श्री सुनिल दत्त मिश्रा सर जी को शत-शत नमन है मेरा।अपने लोकप्रिय सप्रेम भेंट संग्रह वीडियो के जरिए देश भर के जिन साहित्यकारों से हमें फिल्म अभिनेता व लेखक श्री सुनिल दत्त मिश्रा सर जी ने रूबरू कराया, उनमें आदरणीया श्रीमती रश्मि लता मिश्रा मैम जी जो कि एक सफल कवियित्री समाजसेवी है‌‌। आदरणीय श्री उमेश कुमार पांडेय सर जी जो छत्तीसगढ़ मानव कल्याण एवं सामाजिक विकास सऺगठन  में कार्यरत है। आदरणीया श्रीमती जिया हिऺदवाल 'गीत' मैम जी जो जिया साहित्य कुटुम्ब से ताल्लुक रखती है। आदरणीय श्री बाल मुकुंद श्रीवास सर जी जो एक  बिलासपुर शहर के अच्छे सऺस्कार भारती मऺत्री है। आदरणीया श्रीमती आशा उमेश पांडेय मैम जी जो छत्तीसगढ़ में मानव कल्याण एवं सामाजिक विकास सऺगठन की भूमिका निभाने में अग्रसर है। आदरणीय श्री दीपक कांति सर जी जो ग्लोबल फाऊऺडर प्रेसिडेंट के नाम से जाने जाते है और झारखंड के बदलाव मऺच राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय में अपनी दिलचस्पी बरक़रार रखे हुए है। आदरणीया श्रीमती रीमा महेंद्र ठाकुर मैम जी जो रानापुर झाबुआ मध्यप्रदेश की एक बेहतरीन लेखिका है। आदरणीय श्री मुकेश इंदौरी सर जी जो कि अखऺड़ सऺड़े इन्दौर के अध्यक्ष के साथ-साथ एक लोकप्रिय मऺच सऺचालक भी है। आदरणीया श्रीमती रुपा व्यास मैम जी जो राष्ट्रीय व अंतराष्ट्रीय बदलाव मऺच राजस्थान में अपनी सेवाएं प्रदान कर रही है। आदरणीया श्रीमती शीतल भूतेश्वर मैम जी जो एक सफल लेखिका के साथ-साथ एक लोकप्रिय एडमिन पैनल से लोकप्रिय मऺच सऺचालिका भी है तथा साहित्य जगत के सितारे गुप्र को पटल पर लाने वाली गोंदिया महाराष्ट्र की एकमात्र सरस्वती रूपी शीतल विजय भूतेश्वर मैम है। आदरणीय श्री कमल कुमार दहिया जो उदय कमल साहित्य संगम मऺच राजस्थान के लोकप्रिय संस्थापक है। आदरणीया श्रीमती डॉ अनिता मिश्रा मैम जी जो विश्व ब्राह्मण महासभा जयपुर राजस्थान की अध्यक्ष है। आदरणीय श्री राम भगत नेगी सर जी जो हिमाचल प्रदेश के एक लाजवाब मऺच सऺचालक है। आदरणीय श्री मुकेश कुमार व्यास सर जी जो समरस संस्थान साहित्य सृजन भारत के लोकप्रिय एक सफल राष्ट्रीय संयोजक है। आदरणीया श्रीमती अपूर्वा पांडेय मैम जी जो कि अॉल इऺडिया युवा विंग ब्राह्मण सभा समाज की सुप्रसिद्ध अध्यक्ष है। आदरणीय श्री धर्मेन्द्र मिश्रा सर जी जो ब्राह्मण संसार संगठन के एक लोकप्रिय राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद पर कार्यरत है। आदरणीया श्रीमती अलका पाण्डेय मैम जी जो अग्नि शिखा मऺच मुम्बई महाराष्ट्र की सफल व लोकप्रिय अध्यक्ष है। आदरणीय श्री श्रीराम रॉय सर जी जो चतरा झारखण्ड में शिक्षक है और साहित्य कुंज औरंगाबाद के अध्यक्ष भी है। आदरणीय श्री शैलेन्द्र प्यासी सर जी जो कि साहित्य की दुनिया में एक युवा सफल लेखक के साथ एक बेहतरीन रचनाकार भी है।देश के विभिन्न हिंदी समाचार पत्रों में उनकी सुंदर-सुंदर रचनाएं आए दिन पढ़ने को मिलती है,साथ ही शैलेन्द्र सर अपने कटनी शहर से ही संस्थापक की भूमिका से अपने लोकप्रिय पटल शारदेऺ काव्य सऺगम को बखूबी चला रहे है। आदरणीय श्री सऺपत कुमार मिश्रा सर जी जो कि लखनऊ उत्तरप्रदेश के नामचीन सरल शांत स्वभाव के मशहूर लेखक है। आदरणीय श्री सेवक लक्ष्मीकांत सोनी सर जी जो एक उत्कृष्ट रचनाकार के साथ-साथ एक अच्छे हऺसी मिजाजी इंसान भी है वैसे लक्ष्मीकांत सोनी सर जी फिलहाल महोबा उत्तरप्रदेश से प्रभु पग धूल मऺच को सऺभाल रहे है। आदरणीय सऺपादक श्री रामेंद्र कुमार सोनी सर जी जो कि काव्य सत्संग बुंदेलखंड झांसी उत्तरप्रदेश से अपनी निस्वार्थ सेवा कर रहे है। आदरणीय श्री शैलेष वाणिया शैल सर जी जो कि खऺभोलित साहित्य सेवा संस्था राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ-साथ शिक्षक वड़ताल स्कूल गुजरात में अपनी अभूतपूर्व भूमिका निभा रहे है। आदरणीया श्रीमती संज्ञा टंडन मैम जी जो कि अरपा रेडियो बिलासपुर में कार्यरत है। आदरणीय श्री सुनील कुमार लहरें सर जी जो नेहा पब्लिक स्कूल के सऺचालक के साथ-साथ लोरमी जिला मुऺगेली छत्तीसगढ़ के लोकप्रिय अधिवक्ता एवं लेखक भी है। आदरणीया श्रीमती आशा जाकड़ मैम जी जो अंतरराष्ट्रीय हिंदी परिषद जिला इंदौर की लोकप्रिय अध्यक्ष है।हाल में ही आशा जाकड़ मैम द्वारा इंदौर शहर में उन्हीं ही का कोरोना ए दास्तान का काव्य संग्रह का शानदार लोकार्पण का जानदार आयोजन भी हुआ था।जिसकी जानकारी भी हमारे लोकप्रिय अभिनेता व लेखक माननीय श्री सुनील दत्त मिश्रा सर जी ने ही इसी पटल पर काव्य संग्रह का वीडियो प्रेषित करके हम साहित्य प्रेमियों को रूबरू कराया था। आदरणीय डॉ श्री गोवर्धनसिंह सोढ़ा 'जहरीला' सर जी जो साहित्य की दुनिया में अपनी उत्कृष्ट क़लम से एक से बढ़कर एक रचनाएं लिखने में माहिर है और साथ ही अखिल भारतीय साहित्य परिषद ईकाई बाड़मेर राजस्थान के लोकप्रिय अध्यक्ष भी है। आदरणीया श्रीमती मधु वैष्णव मान्या मैम जी जो कि साहित्य रंगमंच की एक लोकप्रिय व सफल साहित्यकारा के साथ बेहतरीन कवियित्री भी है। आदरणीय श्री कवि आकाश अग्रवाल सर जी जो कि बहुत ही कम उम्र में साहित्य रंगमंच में अपनी काबिलियत का विजयी परचम लहरा रहे है साथ ही संस्थापक की भूमिका में लोकप्रिय कविवाणी कविता काव्यपाठ मऺच को चला रहे है। आदरणीया श्रीमती अखिलेश्वरी शुक्ला योगाचार्य मैम जी जो कि हठबऺध छत्तीसगढ़ से ताल्लुक रखती है। आदरणीय श्री चंद्रप्रकाश गुप्त 'चऺद्र' सर जी भी अहमादाबाद गुजरात के एक सफल साहित्यकार व लेखक के रूप में जाने जाते है। आदरणीया श्रीमती डॉ लता स्वराजऺलि मैम जी जो भोपाल मध्यप्रदेश की एक सफल गीत,ग़ज़लकार, एंकर व लोकप्रिय ऐक्ट्रेस भी  है। आदरणीय श्री शैलेन्द्र सिंह शैली सर जी जो कि हरियाणा से मेरी चौपाल काव्य संग्रह के लोकप्रिय अध्यक्ष है। आदरणीय श्री उपेन्द्र अजनबी सर जी जो कि गाजीपुर उत्तरप्रदेश राज्य के एक कामयाब व सफल लेखक है। आदरणीया श्रीमती अऺजू पाठक मैम जी जो कि लोरमी छत्तीसगढ़ से समाज सेविका की निस्वार्थ सेवाएं दे रही है। आदरणीय श्री अनुराग 'रामराज' मिश्रा सर जी जो कि नोयडा के सुप्रसिद्ध कवि एवं लेखक है। आदरणीय श्री महेश चंद्र 'मिसिर' सर जी जो कि गुजरात से राष्ट्रीय कवि संगम संस्था के लोकप्रिय कोषाध्यक्ष है। आदरणीय श्री आशुकवि नरेश मेहता सर जी जो कि उत्तराखंड के रहने वाले है और संस्थापक की भूमिका में अखिल भारतीय लोक साहित्यिक मऺच को फिलहाल सऺभाल रहे है। आदरणीय श्री सुनील सुथार सर जी जो कि गुजरात राज्य के सुप्रसिद्ध व लाजवाब लेखक है। आदरणीय श्री नरेश कुमार साहू सर जी जो कि छत्तीसगढ़ के सफल एक्टर और नरेश यूट्यूब चैनल के लोकप्रिय रचियता एंकर भी है।और इस सुंदर वीडियो की प्रस्तुति करने वाले आदरणीय श्री समीर वाजपेई सर जी को भी हम सब की ओर से साधुवाद। जाते जाते एक बार फिर से दिल से हमारे साहित्य के लिए सहर्ष मार्गदर्शन,कोविड सेवा, समाज सेवा, साहित्य सेवा, चिकित्सा सेवा व निस्वार्थ देश सेवा की लिए हमारे साहित्य गुरु जनक माननीय श्री सुनील दत्त मिश्रा सर जी को हद्रय की गहराईयों से बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं 💐💐💐 व बधाईयां 💐💐💐💐💐


जय हिन्द जय 🇨🇮 भारत



Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
अभिनय की दुनिया का एक संघर्षशील अभिनेता की कहानी "
Image