वैवाहिक वर्षगांठ के 16 सालों का सफर

 


पूनम शर्मा स्नेहिल

विवाह

💐💐💐💐

कभी शिकवे, कभी शिकायत ,

कभी मुहब्बत जताते हैं ।

ये रिश्ते भी कुछ ऐसे हैं ,

जो जीवन में घुल जाते हैं।


होकर बिल्कुल बेगाने से ,

अपने ये बन जाते हैं।

जिनकी खातिर हम अपना ,

सब कुछ भूल क्यों जाते हैं।


रब ने जो जोड़ी बनाई ,

विवाह नाम से जाने जाते हैं।

हो समर्पित एक दूजे के,

 संग जीवन ये बिताते हैं।


कभी ये लड़ते, कभी झगड़ते ,

कभी मुहब्बत जताते हैं।

जीवन रूपी इस नैया को ,

मिलकर पार लगाते हैं।


दे साथ एक दूजे का,

फिर अपनी चाहत जताते हैं।

कई बार तो बिन बोले ही,

 बात क‌ई कह जाते हैं।


आओ आज सिर्फ खुद से नहीं ,

हर जोड़े से हम मिलवाते हैं।

सोच के एक दूजे को जो ,

बस मन ही मन मुस्काते हैं।।


©️®️☯️

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
बाराबंकी के ग्राम खेवली नरसिंह बाबा मंदिर 15 विशाल मां भगवती जागरण बड़ी धूमधाम से मनाया गया
Image
सफेद दूब-
Image