सेवा धर्म

   डॉ. राजेश कुमार शर्मा पुरोहित

 जीवन में सभी व्यक्ति सुखी रहना चाहते हैं। सभी ईश्वर से सूखी रहने की प्रार्थना करते हैं। सुख आत्मा से मिलता है  सुखी आत्मा वाला व्यक्ति निरोग रहता है। शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रहता है। लेकिन सुख किन्हें मिलता है। सुख उन्हें मिलता है जो दूसरों की सेवा करते हैं। उन्हें सुख मिलता है। परिवार में माता पिता की सेवा बुजुर्गों की सेवा का पाठ हम बच्चों को बचपन से ही पढ़ाते हैं। सेवा ही सबसे बड़ा धर्म बताया है। कोई सेवा तन से कोई मन से तो कोई धन से सेवा करते हैं। सेवा धर्म अत्यंत कठिन है। चार दिन सेवा करी पांचवें दिन लोग बगल झांकने लगते हैं। सेवा का फल जरूर मिलता है। बुजुर्गों की सेवा कर देखिए उनके मुख से निकले आशीर्वाद कभी खाली नहीं जाते हैं।

  किसी भूखे को भोजन करा दो तो सेवा है। किसी आश्रम में जाकर साफ सफाई करो। भोजन परोस दो। किसी अस्पताल में जाकर रोगियों की सेवा करो। उन्हें फल दलिया खिला दो। उन्हें दवा के रुपये दे दो। उनके दुख को बांटो यही सेवा है।

  किसी दिव्यांग को सड़क पार करा दो। उसे रोजगार से जोड़ दो यही सेवा है। आपके तन मन धन से किसी चेहरे पर हँसी आ जाये तो यही सेवा है।

    आज हम न तो गुरु की सेवा करते हैं न माता पिता की। और

 नहीं उनकी आज्ञा का पालन करते हैं। और सिर्फ सुख की कामना करते हैं तो कल्पना करो आपको सुख कैसे मिलेगा। सुख के स्रोत तो आपने बंद कर दिए  सेवा करो अपने गुरु की जिसने सदियों के अज्ञान रूपी तिमिर को हटाया जिसने ज्ञान रूपी नेत्र खोल दिये। जिसने यथार्थ से परिचय करा दिया। सेवा करो उस माँ की जिसने गर्भ की यातना सही। जिसने तुम्हें पाला और बड़ा किया। सेवा करो उस पिता की जिसने अभावों का जीवन जीकर तुम्हें पढ़ाया अपने पैरों पर खड़ा किया।

भगवान श्रीकृष्ण ने भगवान श्रीराम ने अपने गुरुओं की सेवा की। गुरुकुल में अनुशासन का पालन किया। श्रीकृष्ण ने गौ माता की सेवा की। गौ पालन गौ सेवा का अपनी लीलाओं के माध्यम से जगत को महत्व समझाया।

  जब भगवान ने सेवा की तो आप क्यों नहीं कर सकते। आओ सेवा धर्म को समझें। अपने धर्म से विमुख न होवें।


- डॉ. राजेश कुमार शर्मा पुरोहित

कवि,साहित्यकार

भवानीमंडी

Popular posts
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं यमुनानगर हरियाणा से कवियत्री सीमा कौशल
Image
पापा की यादें
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं लखीमपुर से कवि गोविंद कुमार गुप्ता
Image
सफेद दूब-
Image