सकारात्मक सोच

प्रीति

मत दूषित करो सोच ,ये जीवन खत्म करती है।

दूर करो दुःखदायी सोच,ये कष्ट तुमको देती है।।

  सकारात्मक सोच देती जीवन ,

  इसको तुम जीवन में उतारो।

  नकारात्मक हर लेती जीवन, 

  इससे तुम जीवन को बचाओ।।


शुद्ध रखो अपने विचार, ये खुशियाँ तुमको देती है।

दूर करो दुःखदायी विचार,ये कष्ट तुमको देती है।।

  

  सुन्दर सोच देती दीर्घ जीवन, 

  इसको तुम आत्मसात करो।

  बुरी सोच करती है मर्दन ,

  इसका तुम बहिष्कार करो।।

           स्वरचित 

          प्रीति (अध्यापिका)

           मिर्ज़ापुर

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image