बनाया उसी ने इतिहास

 

विनोद कुमार पाण्डेय 

बनाया उसी ने इतिहास

जिसमें था कुछ करने का उमंग, 

रहा सुख दुख में सबके संग,


बुरे हालात में बदला न रंग,

वही बन कर रहा खास,

बनाया उसी ने इतिहास।

था जिसमें सेवा का भाव,

पार लगाया मजधार में फंसी नाव।

पर दुख में जो रहा सहायक,

जनता ने स्वीकारा उसे अपना नायक,

बनाया उसी ने इतिहास।

जाति, धर्म, मज़हब को छोड़,

अपने पराये के बंधन को तोड़,

किया जिसने सर्वहित का कार्य,

जनता को निरंतर रहा स्वीकार्य।

बनाया उसी ने इतिहास।

विनोद कुमार पाण्डेय 

       शिक्षक (हरिद्वार)

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
जीवीआईसी खुटहन के पूर्व प्रबंधक सह पूर्व जिला परिषद सदस्य का निधन
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
पीहू को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं
Image