जय माता दी

 

बबीता सैनी

मैं भी तो तुम्हारी बेटी हूं मां 

एक बार तू अपना हाथ

 मेरे सर पर धर दो ना 

एक बार प्यार से आकर

 अपनी पैरों की पायल

 मेरे आंगन मे छनका दो ना 

अपना प्यारा सा हाथ

 अपनी बेटी के सर पर मां धर दो ना 

दुनिया बहुत छोटी लगती है मां

 सच क्या है यह बता दो ना

 आकर मुझको संभालो मां 

अपने गले से लगा लो ना

 याद तुम्हारी जब आती है

 तो आंखों में आंसू को 

आने से पहले थाम लो ना 

मां प्यारा सा अपना हाथ

 मेरे सर पर रख दो ना

 जय माता दी

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
भैया भाभी को परिणय सूत्र बंधन दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image