ईद मुबारक हो

 

शास्त्रीसुरेन्द्र दुबे 

हिंदुस्तान में अमन हो,

भाईचारे का सृजन हो,

कठिन कालचक्र में,

न आपस में रण हो।।


अनेकता दफन हो,

नव एकता सृजन हो,

विचार पाक पावन हो,

हैवान को हनन हो।।


इंसानियत सृजन हो,

इंसान को नमन हो,

कोशिश करें सभी मिल,

खुशहाल ए वतन हो।।


अल्लाह की इबादत हो,

श्री राम का भजन हो,

ऐसा सभी का मन हो,

मेरा बादशाह वतन हो।।


*मुबारकबाद और हार्दिक शुभकामनाएं*


*@काव्यमाला कसक*


*शास्त्रीसुरेन्द्र दुबे अनुज जौनपुरी*


kavyamalakasak.blogspot.com

Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं यमुनानगर हरियाणा से कवियत्री सीमा कौशल
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं लखीमपुर से कवि गोविंद कुमार गुप्ता
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
पापा की यादें
Image