कोरोना में फुर्सत के पल

 

आशीष भारती

कोरोना बीमारी में फुर्सत के पल 

लाकडाउन बना जीवन पर भारी 

सफाई स्वास्थ्य पुलिस कर्मी की 

कोरोना जंग से लड़ने की तैयारी।। 


कोरोना बीमारी में फुर्सत के पल 

अपने घर परिवार की चिंता छोड़

देश को स्वस्थ्य रखने की आयी बारी

कोरोना फाइटर्स बन कमान संभाली।।


कोरोना बीमारी में फुर्सत के पल 

जीवन भर लड़ूंगा घुटकर मरूंगा 

गंदगी का मैं खुद सामना करूंगा

ना आने दूंगा तुम पर कोई चिंगारी।।


कोरोना बीमारी में देश दुनिया को 

आज मिले जीने को फुर्सत के पल 

भौर की पहली किरण को उठकर

मैं संभालता देश की गंदगी सारी।।


कोरोना बीमारी में फुर्सत के पल 

वायु ध्वनि प्रदूषण से मुक्ति मिल गयी 

देश में शुद्ध स्वच्छ वातावरण हो गया

प्रकृति का यौवन बना आज श्रंगारी।।


मजलूम बेसहारा असहायों की 

मदद करने की उठाओ जिम्मेदारी

अपनों संग घर पर रहो सुरक्षित रहो

कोरोना फाइटर्स के सम्मान में बजाओ ताली।।


*आशीष भारती*

लेखक/ कवि/ समीक्षक

(प्रशासनिक सहायक : फार्मेसी कॉलेज बडूली)

सहारनपुर (उत्तर प्रदेश)

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
जीवीआईसी खुटहन के पूर्व प्रबंधक सह पूर्व जिला परिषद सदस्य का निधन
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
पीहू को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं
Image