हिंददेश परिवार उत्तर प्रदेश का भव्य उद्घाटन एवं कवि सम्मेलन

 हिंददेश परिवार उत्तर प्रदेश का 

लखनऊ(उ.प्र.): हिंददेश परिवार के उत्तर प्रदेश इकाई के फेसबुक पटल का भव्य उद्घाटन और अ.भा.कवि सम्मेलन शानदार और उल्लास भरे माहौल में सम्पन्न में 14 .01.2021 मकर संक्रांति को संपन्न हुआ।

    हिंददेश परिवार के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी/प्रदेश प्रभारी श्री सुधीर श्रीवास्तव के संयोजकत्व में इस कार्यक्रम की शुरूआत दिल्ली इकाई आ.कविता बबली द्वारा माँ सरस्वती के पूजन अर्चन से हुई।वरिष्ठ साहित्यकार आ.रतन कुमार शर्मा ने सरस्वती वंदना से मन मोह लिया।

   प्रदेश अध्यक्ष रुबी गुप्ता ने सभी अतिथियों /कवियों का स्वागत किया साथ ही कलमकारों के  अभिनंदन कर आज के कवि सम्मेलन हेतु  अनन्त  शुभकामनायें  दी। अपने अभिव्यक्ति मे हिन्ददेश परिवार के उद्देश्य को उजागर किया  कि सम्पूर्ण विश्व में सद्भावना का  संचार करना और जगत के  कल्याण के लिए अपने सद्कर्मो और सद्विचारों को  अपनाने की  तथा   जन जन तक पहुँचाने के लिए आमंत्रित हैं।  हम सभी मिलकर सुन्दर  संसार का  निर्माण करने के लिए  दृढ़ संकल्पित है। 

         कार्यक्रम की अध्यक्षता हिंददेश परिवार की संस्थापिका/अध्यक्षा आ.अर्चना पाण्डेय 'अर्चि'ने किया। 

      कार्यक्रम में देश भर के लगभग पचास से अधिक कवियों/कवित्रियों ने शुभकामना संदेशों और खूबसूरत रचनाओं से पूरे आयोजन को उल्लासमय बना दिया।कार्यक्रम में हिंददेश परिवार/पत्रिकाऔर इकाई पदाधिकारियों की गरिमामय उपस्थित अंत तक बनी रही।जिनमें डॉ महेश कुमार जैन अमृत,श्रीमती कविता पाल बबली,ब्रह्मकुमारी मधुमिता जी,

आ.विक्रांत ठाकुर,डॉ हेरम्ब कुमार मिश्र,

डॉ महेश कुमार मुनका मुदित,आ.सुरेश अग्रवाल आयुष,श्रीमती पुष्पा बुकलसरिया प्रीत,श्रीमती ज्योति सिन्हा,

आ.अभिषेक मिश्रा,आ.संतोष अड़पावार सत्य,आ.बजरंग केजड़ीवाल 'संतुष्ट',आ.राहुल कुमार दास ,कुमारी मुस्कान वर्मा 'स्नेहा',आ.अभिषेक शर्मा

आ.पद्मा साहू पवर्णी, आ.नीतू रानी ,

आ.कुमकुम कुमारी आदि  हैं।

    अपने अध्यक्षीय भाषण में अध्यक्षा आ.अर्चना जी ने कार्यक्रम की सफलता के लिए इकाई पदाधिकारियों को बधाइयाँ और शुभकामनाएं दी।अपने सारगर्भित संबोधन में उन्होंने हिंददेश परिवार के बुनियादी उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हिंददेश परिवार साहित्य के माध्यम से संसार को सुंदर और खुशहाल बनाने को दृढ़ संकल्पित है।इस संसार में जितनी भी प्राकृतिक संपदाएं है,पशु पक्षी, जीव जन्तु, पेड़ पौधे हैं,सभी का उचित प्रयोग हो,मान सम्मान मिले और प्रत्येक मानव एक दूसरे से सहयोग की भावना से मिले और एक दूसरे का मान सम्मान करे।यही हमारे हिंददेश परिवार का मुख्य उद्देश्य है।हम ऐसे समाज का निर्माण करें जहां सबमें एक दूसरे के लिये प्रेम ही प्रेम, सम्मान और सहयोग की भावना हो। जब हम कोई भी अच्छा काम करते हैं,तब सारी सृष्टि हमारे साथ होती है।

    उन्होंने अपनी कविता के माध्यम से संदेश देते हुए कहा 'तुम चलो तो सही साथ में है गगन,तुम चलो तो सही साथ में है पवन,अब तो धरती तेरी, है तेरा आसमां,संग संग चल पड़ेगा तेरे सारा जहां। उन्होंने उम्मीद जताई की हम निश्चित ही संसार को सुंदर बनाने में जरूर सफल होंगे, क्योंकि आप हमारे और हिंददेश परिवार के साथ हैं।

   प्रदेश महासचिव आ.अमित कुमार बिजनौरी ने सभी अतिथियों/कवियों का आभार प्रकट करते हुए उम्मीद जताई कि जिस उत्साह से उद्घाटन कार्यक्रम में सभी की भागीदारी रही, आगे भी सभी का  स्नेह/सहयोग और इकाई के सतत विकास में सभीसार्थक सहयोग मिलता रहेगा।

    राष्ट्रीय महासचिव आ.बजरंग लाल केजड़ीवाल जी ने सफल आयोजन के लिए सभी को धन्यवाद दिया औऋ विश्वास व्यक्त किया कि उत्तर प्रदेश इकाई नये मानदंड स्थापित करने में जरूर सफल होगी।इसी के साथ उन्होंने कार्यक्रम के समापन की औपचारिक घोषणा भी की।

   अंत में आज के कार्यक्रम संयोजक आ.सुधीर श्रीवास्तव ने सभी पदाधिकारियों/कवियों को सम्मानित करने की घोषणा करते हुए राष्ट्रीय, प्रांतीय पदाधिकारियों के प्रति उचित मार्गदर्शन/विश्वास के लिए और सभी कवियों के सहयोग/उपस्थिति के लिए धन्यवाद /आभार प्रकट किया।

Popular posts
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
गीता सार
भिण्ड में रेत माफियाओं के सहारे चुनाव जीतने की उम्मीद ?
Image
सफलता क्या है ?
Image