व्यापारियों ने प्रतिष्ठानों के ताले चाबियाँ लेकर पोस्ट ऑफिस पर सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

अन्य प्रदेशों की तरह उत्तराखंड में भी ट्रेनें खोली जायेः संदीप शर्मा


 आफताब खान


हरिद्वार । युवा व्यापार मण्डल के जिलाध्यक्ष संदीप शर्मा के नेतृत्व में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए व्यापारियों ने प्रतिष्ठानों के ताले चाबियाँ लेकर पोस्ट ऑफिस पर प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। जिलाध्यक्ष संदीप शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार व्यापारियों के उत्पीड़न पर उतारू हो चुकी है, प्रदेश में व्यापारियों की हालत दिन पे दिन खराब होती जा रही है, सभी प्रदेशों में ट्रेनों का आना जाना शुरू हो चुका है लगभग चालीस जोड़ी ट्रेनों का आवागमन शुरू हो चुका है, पर यहाँ की सोई प्रदेश सरकार सिर्फ एक ट्रेन नन्दा एक्सप्रेस चलने से पता चलता है कि व्यापारी वर्ग के लिए कितनी सुस्ती दिखा रही है। संदीप शर्मा ने कहा कि हम हरिद्वार के सांसद व केंद्रीय शिक्षा मंत्री से मांग करते हैं, कि व्यापारियों की संकट की घड़ी में वह हरिद्वार के लिये मेल ट्रेन शीघ्र चलवाने का प्रयास करें,क्योकि सारे त्यौहार सर पर है। अगर समय रहते यह ट्रेनें शुरू होती है तो बेहाल व्यापारी वर्ग को संजीवनी मिलने का काम होगा, यहाँ लगभग 80ः दुकानों में ताले लगे है जो सिर्फ यात्रियों पर निर्भर है।


भोलागिरी व्यापार मण्डल के अध्यक्ष मयंक शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री सिर्फ घोषणा तक सिमित है, कागजों में ही सारे काम हो रहे हैं। धरातल पर सब शून्य ही दिख रहा है, बॉर्डर से आ रहे यात्री परेशान है, अधिकारियों के रोज अलग अलग बयान आ रहे हैं, असमंजस वाली स्थिति हो गयी है इस प्रदेश में अगर यही हाल रहा तो व्यापारी वर्ग आने वाले चुनाव में बहुत अच्छा सबक सिखाने के लिए तैयार बैठा है। प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से वरिष्ठ व्यापारी नेता विनोद मिश्रा, हरिशंकर, विनोद अरोड़ा,गगन बंसल,योगेश अरोड़ा, हरि नारायण, संजीव सिंघल,मनीष नेगी, अमित गोयल, मोहन अरोड़ा, संतोष गुप्ता, जितेंद्र कोरी, अक्षय शर्मा,विकास गुप्ता,महेश बंसल, दीपक कोरी, सचिन बंसल, भगवान दास, मनीष, अंकुर चुघ,हरीश पूरी, जयवीर, रजत, शेंकी, तुलसी अरोड़ा कमल गौरव माटा आदि उपस्थित रहे।


Popular posts
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
गीता सार
भिण्ड में रेत माफियाओं के सहारे चुनाव जीतने की उम्मीद ?
Image
सफलता क्या है ?
Image