हिंदी से हिंदुस्तान है


जन्म हुआ मानवता का 


 


हां यही तो वह स्थान है 


 


दी सीख जिन्होंने धर्म की हमको 


 


तुलसी, कबीर संत महान हैं


 


संस्कृत से संस्कृति हमारी 


 


हिंदी से हिंदुस्तान है 


 


बिहारी, केशव, भूषण जैसे 


 


कवियों ने हिंदी अपनाई 


 


हिंदी का महत्व बहुत है 


 


बात ये सबको समझाई 


 


यही है कारण कि इन सबकी 


 


विश्व में आज पहचान है 


 


संस्कृत से संस्कृति हमारी 


 


हिंदी से हिंदुस्तान है 


 


है भाषा ये जनमानस की 


 


जो हृदय से सबको जोड़ती है 


 


पढ़ा जाए इतिहास तो ये 


 


सभ्यता की ओर मोड़ती है 


 


हर हिंदुस्तानी के दिल में 


 


इसके लिए सम्मान है 


 


संस्कृत से संस्कृति हमारी.... 


 


बात करें जो लिपि की तो 


 


बात ही इसकी निराली है 


 


जैसा लिखते वैसा बोले 


 


पुराना नाम इसी का पाॅली है 


 


गौतम बुद्ध की रचना का भी 


 


इसी भाषा में ज्ञान है 


 


हिंदी में सीखे पढ़ना हम 


 


गाने हिंदी में गाते हैं 


 


फिर क्यों हिंदी अपनाने में 


 


व्यर्थ ही हम घबराते हैं 


 


छोड़ के हिंदी अंग्रेजी बोले 


 


इसी बात की है निराशा 


 


सीखो अन्य भाषाओं को पर 


 


अपनाओ अपनी भाषा 


 


दुनियां में बतलाओ सबको 


 


हिंदी से हमारी शान है 


 


संस्कृत से संस्कृति हमारी 


 


हिंदी से हिंदुस्तान है..।। 


 


डाॅ0 अनीता शाही सिंह 


 


प्रयागराज


Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
मतभेद
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image