"हिंदी मेरी शान"

      


                         मेरी आन 


           मेरा अरमान है हिंदी,


        विविधता में रहे एकता


 मेरी असली पहचान है हिंदी,


       एक राष्ट्र, एक ही भाषा


    भारत का सम्मान है हिंदी !


                  ****


जीवन का हर भाव इसी से


सबका है लगाव इसी से,


एक सूत्र में बाँधे सबको


मेरा तो ये मान है हिंदी,


हिंद की ये माथे की बिंदिया


ख़ुद में समेटे हिंदुस्तान है हिंदी !!


              ****


देवनागरी की चादर ओढ़े


हर इसां में प्रेम जगाए,


सभ्यता का ये सागर गहरा,


विचारों का मेल कराये,


आगाज़ यही, अंजाम यही


इतनी है महान ये हिंदी !!!


               ****


क से कर्म, ख से खुशियाँ


ग से गीता का ज्ञान है हिंदी,


साहित्य और संस्कृति का


व से है वरदान ये हिंदी,


पाली इसका नाम पुराना


"दीप" कहे मेरी शान है हिंदी !!!!


----------------------------------------


 कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"


  शिक्षक एवं साहित्यकार


  हिसार ( हरियाणा )


   संपर्क सूत्र -9050956788


 


 


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
आपका जन्म किस गण में हुआ है और आपके पास कौनसी शक्तियां मौजूद हैं
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
साहित्यिक परिचय : नीलम राकेश
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image