हम तेरे नाम हैं


तुम भी बदनाम हो, हम भी बदनाम हैं 


इश्क की डगर में, सरेआम हैं । 


एनंटिंरोमिओ लगे या, धारा कोई 


हम तेरे नाम हैं तुम मेरे नाम हो । 


 


प्यार बढ़ता रहे, बढ़ते बढ़ते यूँ ही 


छोड़ जाना ना तुम, मुझको यूँ कहीं ।   


यादों में दिलों, रहती हो तुम 


भूल जाना ना तुम, मुझको यूँ कहीं । 


 


साथ सातो जनम का, निभायेंगे हम 


गीत ग़ज़लों में तुमको, गायेंगे हम । 


हमको बदनाम कर के, न जाना तुम 


तुम भी बदनाम हो, हम भी बदनाम हैं। 


इश्क की डगर में सरेआम हैं


एनंटिंरोमिओ लगे या, धारा कोई


हम तेरे नाम हैं तुम मेरे नाम हो ।


 


तुम हो मेरे पिया, प्यार तुम हो मेरे 


जिन्दगी की सफर में, डगर हो मेरे । 


भागी भागी मैं आयी, तेरे ही गली 


मेरे प्यार की तुम पहचान हो । 


 


हम भी बदनाम हैं तुम भी बदनाम हो


इश्क की डगर में सरेआम हो । 


एनंटिंरोमिओ लगे या धारा कोई


हम तेरे नाम हैं तुम मेरे नाम हो । 


हम तेरे नाम हैं तुम मेरे नाम हो


हम तेरे नाम हैं तुम मेरे नाम हो। 


              


                  सी.पी.गौतम 


काशी हिन्दू विश्वविद्यालय वाराणसी


                  हिन्दी विभाग


Gmail- Cp8400bhu@gmail.com


Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
मतभेद
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image