सावन आया है


 हरा रंग, हरी पत्तियां, चारों तरफ आई हरियाली
 प्रकृति की देख ऐसी सुंदरता,मन में छाई खुशहाली
 नीले आकाश में बादल छाया है 
 फिर महीनों बाद सावन आया है!


 कलिया फूल बनने को व्याकुल है
 बीज पौधे बनने को व्याकुल है
 प्रेमी प्रेमिका से मिलने को व्याकुल है
 मिट्टी गीली होने को व्याकुल है 
 और मौसम सावन लाने को व्याकुल है 


सावन में ही तो झूलन है 
झूलन ही तो मनभावन है 
मनभावन ही तो हरि दर्पण है
हरि दर्पण ही तो जीवन है 
जीवन ही तो सावन है



 कोलकाता


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
आपका जन्म किस गण में हुआ है और आपके पास कौनसी शक्तियां मौजूद हैं
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
साहित्यिक परिचय : नीलम राकेश
Image