एक साल से अपहृत किशोर का नहीं लग पा रहा सुराग , धौरहरा पुलिस की कार्यशैली पर सवाल


लखीमपुर खीरी । जनपद के थाना धौरहरा के गांव नवा पुरवा से लगभग 1 वर्ष पूर्व अपह्रत किशोर का अभी तक पुलिस पता नहीं लगा पाई है । मुख्यमंत्री समेत शासन और प्रशासन के आला अधिकारियों के निर्देशों के बाद भी पुलिस आरोपी पक्ष से मिलकर पीड़ित पक्ष की सुनवाई नहीं कर रही है । मालूम हो कि गांव नवा पुरवा निवासी नीलू पुत्र गयाराम को ठेकेदार राजेश तथा मेट छोटू महाराजगंज जिले में  पुल के निर्माण कार्य में लेबर के तौर पर ले गए थे । आरोप है कि वहां पर छोटू और नीलू के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी । जिसके बाद ठेकेदार ने सारी लेबर को हिसाब करके भेज दिया था । जबकि नीलू छोटू और ठेकेदार राजेश बाद में आने की बात कही थी । आरोप है कि  नीलू अपने घर नहीं पहुंचा जब नीलू की मां ने ठेकेदार से अपने पुत्र के बारे में पता किया तो उसने उनको सही जानकारी देने की वजाये उनके साथ उल्टा गाली गलौज करते हुए धमकी दी कि वह नहीं जानते नीलू कौन है क्या है ना हमारे साथ नीलू आया है। नीलू की मां तभी से थाना से लेकर जिला मुख्यमंत्री तक अपनी गुहार लगा चुकी है , लेकिन उसे न्याय आज तक नहीं  मिल पाया है । क्या कारण है कि पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर नीलू की बरामदगी के संबंध में कोई ठोस कार्यवाही नहीं कर पा रही है । यह प्रकरण धौरहरा पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्न लगा रहा है । बताया जाता है कि इसी थाना क्षेत्र के विभिन्न गांव के आधा दर्जन से अधिक युवक लापता है लेकिन पुलिस किसी भी मामले में सक्रिय भूमिका नहीं निभा रही है।
लखीमपुर खीरी । जनपद के थाना धौरहरा के गांव नवा पुरवा से लगभग 1 वर्ष पूर्व अपह्रत किशोर का अभी तक पुलिस पता नहीं लगा पाई है । मुख्यमंत्री समेत शासन और प्रशासन के आला अधिकारियों के निर्देशों के बाद भी पुलिस आरोपी पक्ष से मिलकर पीड़ित पक्ष की सुनवाई नहीं कर रही है । मालूम हो कि गांव नवा पुरवा निवासी नीलू पुत्र गयाराम को ठेकेदार राजेश तथा मेट छोटू महाराजगंज जिले में  पुल के निर्माण कार्य में लेबर के तौर पर ले गए थे । आरोप है कि वहां पर छोटू और नीलू के बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हुई थी । जिसके बाद ठेकेदार ने सारी लेबर को हिसाब करके भेज दिया था । जबकि नीलू छोटू और ठेकेदार राजेश बाद में आने की बात कही थी । आरोप है कि  नीलू अपने घर नहीं पहुंचा जब नीलू की मां ने ठेकेदार से अपने पुत्र के बारे में पता किया तो उसने उनको सही जानकारी देने की वजाये उनके साथ उल्टा गाली गलौज करते हुए धमकी दी कि वह नहीं जानते नीलू कौन है क्या है ना हमारे साथ नीलू आया है। नीलू की मां तभी से थाना से लेकर जिला मुख्यमंत्री तक अपनी गुहार लगा चुकी है , लेकिन उसे न्याय आज तक नहीं  मिल पाया है । क्या कारण है कि पुलिस आरोपियों को गिरफ्तार कर नीलू की बरामदगी के संबंध में कोई ठोस कार्यवाही नहीं कर पा रही है । यह प्रकरण धौरहरा पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्न लगा रहा है । बताया जाता है कि इसी थाना क्षेत्र के विभिन्न गांव के आधा दर्जन से अधिक युवक लापता है लेकिन पुलिस किसी भी मामले में सक्रिय भूमिका नहीं निभा रही है।


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
आपका जन्म किस गण में हुआ है और आपके पास कौनसी शक्तियां मौजूद हैं
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
साहित्यिक परिचय : नीलम राकेश
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image