कुछ बातें मन की



"आज पिता का दिन भी है और विश्व योग का दिन भी है। योग -दिवस की बधाई सभी मानव-जाति को,योग करें और निरोग रहें ।हमने विश्व को बहुत कुछ दिया है परंतु अपने हीं घर में अर्थात अपने हीं देश में उसका मोल नहीं और घूम-फिर कर जब वह फिर हमारे पास आ रहा है और तब हम उसे दूसरे देश का जानकर उसे अपनाते हैं और उससे प्रभावित होते हैं।काश कभी हम अपनी दुनिया को बेहतर समझ सकते!!
आइए अब "पितृ-दिवस" की ओर चलते हैं सबसे पहले तो मैं दुनिया के हर पिता को इस दिन की बधाई देना चाहती हूँ कि पिता बनने का सौभाग्य हर पिता को मिले। क्योंकि पिता वह बरगद है जिसकी जड़ें इतनी गहराई में रहती है कि आंधी-तूफान भी उसकी जड़ें नहीं हिला पाती।चंद पँक्तियाँ दुनिया के सभी पिताओं को समर्पित,,,,,,,
पिता,,,,,
क्या कहूँ और 
अब क्या न कहूँ
समझ ही नहीं पाती हूँ
जीवन के तुम
मूल-मंत्र हो
यह सबको मैं सिखलाती हूँ
हो आधार जीवन के
यह नहीं भूल 
मैं पाती हूँ
जड़ें तुम्हारी इतनी गहरी
हर पल उसमें
समा मैं आती हूँ
एक जीवन दिया जो तूने
विस्तृत कर उन्हें
फिर पास आ जाती हूँ
लालसा लगी कुछ
और मिले जो
गगन धरा फैलाती हूँ
तेरे रहने में तो जीवन
यूँही निश्चिन्त बन जाता है
हाथ उठे जो तेरे पिता
मन खुशबू भर जाता है
एक आवाज़ तेरी सुन मैं
धन्य खुद को बनाती हूँ
और कहीं जब दूर रहूँ
तो खुद को 
बहुत रुलाती हूँ
जब मैं बहुत दुःखी होती
तुझको
फोन लगाती हूँ
तेरी खिलखिल
करती हँसी सुन
मंत्रमुग्ध हो जाती हूँ
माँ तो छोड़ गयी
अचानक तुम 
कहीं मत चले जाना
दे देना संकेत मुझे
या मुझे पास बुला लेना
बैठ कहेंगे अपनी बातें
कुछ तेरी भी सुन लूँगी
मन अधीर जब 
हो जाए तब
विधाता से कुछ कह लूँगी
एक दिवस आएगा
हम सभी चले जायेंगे
पर तूने जो
वृक्ष लगाया
शीतल पवन बहाएंगे
जाना सबका
शाश्वत सच है
रहने नहीं कोई आया
पर जो जड़ें
जमाई तूने
नाम वहाँ ख़ुद गया
दे आशीष सभी को
तेरी बगिया
यूँ ही हँसती रहे
पिता
बन कर बट-बृक्ष
छाया अपना देते रहें
वैसे तो 
हर दिन है तेरी
और रात भी तेरी हैं
पर एक दिवस
विशेष है तेरा
जिसपर अधिकार
तेरे संग 
मेरी भी है
एक दिवस 
है पितृ दिवस
चलो हर दिन इसे मनाए
ले आशीष हर दिन तेरा
हर दिन विशेष बनाएं,,,,,,

पिता,आपका स्नेहाशीष हर दिन दिन मिले क्योंकि आपसे ही हमारी पहचान है,,🙏🙏🙏🙏
© डॉ मधुबाला सिन्हा
मोतिहारी
21 जून2020 


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image