आपकी रसोई में ही मौजूद हैं कोरोना वायरस से लड़ने के साधन

संक्रमण में उपचार से ज्यादा बेहतर है बचाव


रमन गुप्ता


सहारनपुर। थोड़ी सी सावधानी और सतर्कता न केवल हमें कोरोना संक्रमण से बचा सकती है बल्कि संक्रमित होने पर संक्रमण से छुटकारा भी दिला सकती है। क्षेत्रीय आयुर्वेद एवं यूनानी अधिकारी ओमप्रकाश के मुताबिक अब तक सामने आए मामलों से स्पष्ट है कि हमारे देश में कोरोना संक्रमण के मामले माइल्ड यानी हल्के हैं। ऐसे मामलों से निपटने के लिए हमारी रसोई में मौजूद औषधियां भी कारगर साबित हो सकती हैं। समय रहते इनका प्रयोग शुरू कर दिया जाए तो यह घरेलू औषधियां कोरोना संक्रमण से बचाव भी कर सकती हैं और बचाव हमेशा उपचार से बेहतर साबित होता है।
कोरोना क्या, किसी भी संक्रमण से बचाव के लिए पहली शर्त है स्वस्थ्य जीवन शैली का पालन करें। स्वस्थ जीवन शैली में सबसे पहली आवश्यकता रोजाना छह से आठ घंटे की अच्छी नींद है। प्रयास करें कि रात दस बजे से सुबह चार बजे तक का समय इसमें जरूर शामिल हो। इसके अलावा पर्याप्त पानी पीएं। गले को तर रखने का प्रयास करें। रोजाना तीन से चार लीटर पानी पीएं। गर्मी के मौसम में भी गुनगुना पानी पी सकें तो और बेहतर होगा। इन दोनों बातों का ध्यान रखने से संक्रमण का खतरा आधा हो जाएगा। इसके अलावा गर्म पेय पदार्थों का सेवन करते रहें। जैसे ग्रीन टी, हर्बल चाय।  कोल्ड ड्रिंक, शीतल पेय और फास्ट फूड के सेवन से तौबा करें। सुपाच्य भोजन करें। सीट्रस फूड्स जैसे नींबू, संतरा और मौसमी आदि का सेवन करें। इनमें विटामिन सी होता है और विटामिन सी रोग प्रतिरोधक क्षमता बनाए रखने में मदद करता है। नींबू और अदरक डालकर गुनगुना पानी का इस्तेमाल करें। रोजाना कम से कम एक बार गिलोय का काढ़ा पिएं। गिलोय प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली होती है। संक्रमित मरीज इसके सेवन से संक्रमण मुक्त भी हो सकता है। इसके अलावा अदरक, काली मिर्च और तुलसी के पत्ते डालकर भी काढ़ा बनाया जा सकता है। हल्दी और लहसुन में भी एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं। हल्दी और काली मिर्च डालकर दूध पीने से संक्रमण से बचाव होगा। ध्यान रहे कि हल्दी और काली मिर्च चार-एक के अनुपात में हो। लहसुन, अदरक, काली मिर्च का सेवन सलाद में भी कर सकते हैं। यह सभी औषधियां आपकी रसोई में ही उपलब्ध है, बस इनकी उपयोगिता समझने की जरूरत है।
कोरोना को लेकर तनाव न लें:
कोरोना संक्रमण को लेकर तनाव कतई न लें। यह किसी भी बीमारी का वेग बढ़ा देता है। अगर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता अच्छी है तो इस संक्रमण से कतई डरने की जरूरत नहीं है। बस थोड़ी सी सावधानी रखें। यदि किसी भी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं तो उसके प्रति सचेत रहें। गर्भवती महिलाएं और छोटे बच्चे भी कोरोना संक्रमण से जंग जीत रहे हैं। सामाजिक दूरी का पालन करें। बाहर निकले तो मास्क लगाना न भूलें और संक्रमण रोधी रसायन का प्रयोग करें। घर लौटन पर पानी-साबुन से हाथ धोएं। जूते घर के बाहर रखें और बाहर से आते ही कपड़े भी बदल लें, नहा सकें तो और बेहतर होगा।


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
जीवीआईसी खुटहन के पूर्व प्रबंधक सह पूर्व जिला परिषद सदस्य का निधन
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
साहित्यिक परिचय : श्याम कुँवर भारती
Image
ठाकुर  की रखैल
Image