भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना

 



बिमलेन्दु पाण्डेय जी के प्रतिष्ठा खाली एतने से नइखे कि उहाँ का प्रतिष्ठित साहित्यकार श्रद्धेय रामनाथ पाण्डेय जी के सुपुत्र हईं (जे महेन्दर मिसिर का जीवनी पर आधारित "महेन्दर मिसिर" उपन्यास लिखले रहे) कि बिमलेन्दु जी एम.ए.(Economics) आ एलएलबी कइले बानीं, कि उत्तर बिहार क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक से अधिकारी का पद से 31 मार्च 2020 के अवकाश पवले बानीं, कि आशुतोष लेन, रतनपुरा, छपरा में निवास बा, कि परिवार का संगे सुखमय जीवन जी रहल बानीं। 
ई सब परिचय केहू के हो सकता। पाण्डेय जी के सबसे बड़हन प्रतिष्ठा आ परिचय बा उहाँ के खरखर आ निष्कपट सुभाव, बेबाक विचार, अपना पिताजी आ भोजपुरी साहित्यिक आ सांस्कृतिक विरासत जोगावे में तन, मन आ धन से समर्पण। 
भोजपुरी आ भोजपुरी भाषा खातिर सदईं नीमन करे की ऊर्जा से लबालब भरल ए शानदार, जानदार आ दिलदार ब्यक्तित्व के उपस्थिति भोजपुरी का हर मंचन पर समान रूप आ निःस्वार्थ भाव से रहेला। 
इहाँ के खरखर सुभाव आपन- गैर भूलि के हरमेशा भोजपुरी आ भोजपुरिया लोग की भलाई के सोचत रहेला। बहुते भोजपुरिया संकट का समय इहाँ से लाभ उठवले बाड़ें। हमरा के व्यक्तिगत रूप से इहाँ के इहे गुन प्रभावित कइलसि। आजु #पाण्डेय जी के जनमदिन ह। हम हिरदय की समग्रता से शुभकामना देत चाहबि कि पाण्डेय जी शतायु होईं, निरोग रहीं आ भोजपुरी खातिर होत भाँति-भाँति के कार्यन में आपन सक्रिय जोगदान देत रहीं। रिटायर की बाद के पारी में इहाँ के सगरे मनोकामना पूरा होखे। भगवान भूतभावन के वरदहस्त रक्षावर्म्म बनि के हमेशा माथ पर बनल रहे।


देव सभे मिलि दे वरदान मिले सुख स्वास्थ सदा चहुँओरी।
मंगलगान बजे दुअरा फगुआ चइता कजरी रसबोरी।
रात अँजोर छिटे शशि आइ मधुऋतु न जाय कहीं घर छोड़ी।
खाँचिन मान मिले सबसे जग के सब बैभव से भरि झोरी।


#मंगलमस्तु
संगीत सुभाष,


साहित्य सम्पादक
मुसहरी, गोपालगंज।


 


जय,माता दी, जय जय श्री राम 🙏🙏
परम आदरणीय, हमनी के परिवार "सारण भोजपुरिया समाज"के वरिष्ठतम संस्थापक सवांग, साहित्यिक आ सांस्कृतिक घराना (भोजपुरी के पहिलका उपन्यास के रचनाकार)श्रद्धेय स्वःरामनाथ पाण्डेय जी के सुपुत्र, समाज़ सेवी, अवकाश प्राप्त बैंक अधिकारी, भोजपुरी भाषा आ संस्कृति के पोषक, व्यवहार कुशल, मृदुल-मृदुभाषी, भोजपुरिया संत आ सबसे बढ के हमार ज्येष्ठ भ्राता श्री विमलेन्दु भूषण पाण्डेय जी के आज अवतरण दिवस हार्दिक बधाई आ स्वस्थ,सुख, समृद्धि से परिपूर्ण समाजिक  साहित्यिक आ सांस्कृतिक सक्रियता के साथे मंगलमय जीवन यापन के शुभकामना बा ।परम पिता परमेश्वर से प्रार्थना रही की हमरा भइया जी के, नेह-छोह, प्यार-दुलार, सानिध्य आ मार्गदर्शन हमनी का अनंत काल तक अइसही मीलत रहो ।🎂🎁🌹


ज्वाला सिंह


सम्पादक 


साप्ताहिक दि ग्राम टुडे


सारण भोजपुरिया समाज परिवार के संस्थापक आ साहित्य जगत के नामचीन बेक्ती जेकरा नस नस में भोजपुरी बसल बा।उनहीं के अवतरण दिवस ह।
आजे के दिन भोजपुरी के पहिला साहित्यकार स्व० रामनाथ पाण्डेय जी के आँगना में एगो आवाज गुँजल रहे।ऊ आवाज हमनी के भइया श्री विमलेन्दु भूषण पाण्डेय जी के रहे।
           भइया के जन्मदिन के हार्दिक बधाई बा।
भोजपुरी के परचम लहरावत ऊहाँ के जिनगी स्वर्णिम होखे।एही कामना के साथे फेरू से बधाई!


गणपति सिंह


सम्पादक 


मासिक दि ग्राम टुडे


 



#जय_भोजपुरी_जय_भोजपुरिया
परम आदरणीय ज्येष्ट भ्राता श्री विमलेन्दु भूषण पाण्डेय जी, उतर विहार ग्रामीण बैंक के वरीय प्रबन्धक के पद से आज सेवा निवृत हो गइनी ।भइया जी अपना जीवन के सोनहुला समय में से 38 वर्ष के सेवा पूरा तन्मयता आ समर्पण के साथे पुरा कइला के बाद आगे के सुखी, स्वस्थ आ मंगलमय जीवन यापन के शुभकामना के साथे भगवान से निहोरा आ प्रार्थना बा कि, ऐह समर्पित समाज सेवी, साहित्य प्रेमी आ सबसे बढ के भोजपुरिया संत के  नेह-छोह, प्यार-दुलार, सानिध्य आ मार्गदर्शन हमनी का अनंत काल तक अइसही मीलत रहो ।🙏🙏
२अप्रिल १९६० में स्व.रामनाथ पांडेय जी ( भोजपुरी साहित्य के पहिलका उपन्यासकार ) के घरे रतनपुर छपरा में स्व.उमा पांडेय जी के गर्भ से एगो बालक के जनम भइल जे आज Bimlendu Pandey के नाम जानल जानी , प्रारंभिक शिक्षा छपरा से भइल बाद में उहाँ के एम.ए आ एल.एल.बी . भी कइनी । ओही समय उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक में नियुक्ति भइल आ कुछ दिन बितला के बाद उहाँ के पाणिग्रहण संस्कार Meena Pandey जी से भइल ।


श्री पांडेय जी सरल स्वभाव के धनी आ बेबाक अंदाज वाला एगो प्रखर व्यक्ति हईं । साहित्य इहाँ के रग रग में भरल बा । आज इहां के भोजपुरी साहित्य खातिर तत्पर एगो महान योद्धा के तरह सक्रिय आ " सारण भोजपुरिया " के संस्थापक बानी ।


३१ मार्च २०२० के उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक से सेवानिवृत्त भइला के बाद आनंदमय जीवन व्यतीत करे के डगर में चल दिहले बानी ।
इहाँ के " भोजपुरिया संत " के उपाधि इहाँ के चाहे वाला लो दिहले बा । गर्व बा अइसन भोजपुरी समर्पित संत पर ।


आज ओही विमलेंदु भइया के जन्मदिन ह परमपिता परमेश्वर से निहोरा बा कि भइया के स्वस्थ राखीं आ दीर्घायु प्रदान करीं ,
भइया के जन्मदिन के बहुत बहुत बधाई व शुभकामना बा 🌹🙏


शैलेन्द्र कुमार तिवारी


महाप्रबंधक


 


Popular posts
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
अभिनय की दुनिया का एक संघर्षशील अभिनेता की कहानी "
Image