प्रीति : साहित्यिक परिचय

 



नाम- प्रीति 
माता का नाम- श्रीमती शारदा देवी, 
पिता का नाम- श्री कृपा शंकर 
शैक्षिक योग्यता- एम.ए(राजनीति शास्त्र), बी.एड, बी.टी.सी।
सम्प्रति- अध्यापिका ।


साहित्यिक परिचय- मुक्त तरंगिनी साझा काव्य संग्रह, रेलनामा साझा काव्य संग्रह, रंगमंच साझा काव्य संकलन ,नर्मदा के रत्न साझा काव्य संग्रह, साहित्य समर्पण साझा काव्य संग्रह,  साहित्य एक्सप्रेस पत्रिका, साहित्यनामा पत्रिका, इत्यादि में रचनाएँ प्रकाशित हुई है ।बज्म ए हिन्द साझा काव्य संग्रह में भी रचनाएँ प्रकाशित ।


धरा महान 


दिव्य जीवन में जो अविरल धार,
प्रेमपूर्ण नित अमिट ज्ञान ।
मिल जाये जिसमें सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड, 
हो जाय जिससे मानव कल्याण ।


जिससे जीवन हो जाय शक्तिशाली,
खत्म हो जाय सभी दंभ प्रवृत्ति ।
हो जाय सबको आत्मज्ञान, 
समाहित हो जाय जिसमें पूर्ण संसार ।।


दया कर दें प्रभु सम्पूर्ण मानवों पर,
हो जाय सभी का पूर्ण कल्याण ।
आ जाये सभी में सद्ज्ञान,
फिर से हो जाय दीप्त संसार ।।
           स्वरचित 
           प्रीति (अध्यापिका)
                कुशीनगर ।


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
पीहू को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image