नेता खटे ताव में

 





मन के मन गरीब कीने, अमीर कीने पाव में,
एसी  तले  किसान  खटे, नेता खटे ताव में।


धुरूत कहाँ टेढ़  चलेला,चले  सदा  सोझ राह?
बा  कठीन  सीधा मनई के, लगा  लेगल  थाह।
गउ जस सुभाव जेकर, रहत  हरदम  ताव  में,
एसी  तले  किसान  खटे, नेता  खटे  ताव  में।


अनपढ़े के नू मोल बा,पढ़ल लिखल छिछियाता,
जेने    देखीं    ओने,  रोजी     रोजी   चिल्लाता।
लंदन  में लोग  दिन  कटावे, दाम  क  अभाव  में,
एसी   तले   किसान   खटे, नेता  खटे  ताव में।


परमार्थी   लूटत   बा   देश,  स्वार्थी   संगोरता,
गुड़ के  रखवार चिंउटा, मांस सियार अगोरता।
असल हीत नीमक रगड़े पसर के पसर घाव में,
एसी  तले  किसान  खटे, नेता  खटे  ताव  में।


टेढ़  चल  लोग  लजग  जीते, सोझ  वाला  हारे,
आपन  बेरा  पार  लगी, शिव  शंभु  का  सहारे।
कर पर करऽ भरोस पैनाली घोंटऽ जनि फाँव में,
सभकर दरद तूँ बुझ जइबऽ,खटऽ एक दिन ताव में।
दिलीप पैनाली
सैखोवाघाट
तिनसुकिया
असम
9707096238





 


 

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
पीहू को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image