जुल्म हमारे

 

डॉ मंजु सैनी

हमने भी जुल्म कम नही किये

फायदे को दोहन प्रकर्ति का किया

जाने अनजाने हमसे भूल तो हुई


हे ईश्वर रहम करो अभी तो

साँसे बाक़ी थी बची,

उसकी जो था अस्पताल में पड़ा

पर न जाने क्यो हवा नहीं मिली

राजनीति के चक्कर मे मरीज 

की तो हवा ही निकल पड़ी

हमने भी जुल्म कम नही किये

फायदे को दोहन प्रकर्ति का किया

हवा पर भी देखो खेल राजनीति का

आज हमने कहने को तो

तरक्की इतनी कर ली और

मौत आक्सीजन की कमी के

चलते ही होने लगी

हमने भी जुल्म कम नही किये

फायदे को दोहन प्रकर्ति का किया

डॉ मंजु सैनी

गाजियाबाद

Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
सफेद दूब-
Image
स्वयं सहायता समूह ग्राम संगठन का गठन
Image
हास्य कविता
Image