प्रहरी बनेगा वो फिर एक बार

 

रवींद्र कुमार शर्मा

कितने मर गए कितने और मर रहे हैं

जैसा जो लिखा है वैसा ही भर रहे हैं

जाने का समय तिथि स्थान सब निश्चित है

फिर किस बात से यूँ ही डर रहे हैं

जो पैदा हुआ उसे छोड़ना ही पड़ेगा

यह काया यह नश्वर शरीर

बदल नहीं पाओगे तुम जो

विधाता ने लिखी है तकदीर

गली गली गांव गांव घूम रहे यमदूत

आदेश धर्मराज का पकड़े हाथ

कोई रोक न पाए उनको

जिसको ले जाना चाहें वो साथ

कुछ बड़े भी चले गए साथ छोड़

कुछ छोटों ने भी नहीं निभाया साथ

राम भजन भी काम नहीं आ रहा

दवाई की तो करें क्या ही बात

बड़े बड़े डॉक्टर साथ हो लिए उनके

किसी ने भी नहीं किया प्रतिकार

बिछुड़ गए जो वो नहीं मिलेंगे

कर लो जितनी चीखो पुकार

चारों तरफ दहशत सी है छाई

बन्द किये हैं उसने भी किवाड़

भरोसा तुम अपना टूटने मत देना

प्रहरी बनेगा वो फिर इक बार

मास्क लगा कर रखना है

दो ग़ज़ दुरी को अपनाना है

दूर दूर रहकर ही अब हमको

कोरोना को भगाना है


रवींद्र कुमार शर्मा

घुमारवीं

जिला बिलासपुर हि प्र

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
बाराबंकी के ग्राम खेवली नरसिंह बाबा मंदिर 15 विशाल मां भगवती जागरण बड़ी धूमधाम से मनाया गया
Image
सफेद दूब-
Image