मानव हरे वृक्ष लगाओ

 

ओम प्रकाश श्रीवास्तव ओम

हरे वृक्ष मानव तुम खूब लगाओ,

हरियाली से माँ वसुधा सजाओ,

जीवन से सभी संकट मिट जाएंगे,

केवल पर्यावरण को तुम बचाओ।

आज रोगों की बाढ़ धरा पर आई,

प्रदूषण के आतंक से धरा घबराई ,

प्रकृति के रोष में आने से ही देखो,

चारोंओर महामारी विकट है आई।

भविष्य के संकटों से धरा को बचाओ,

भारत माँ का आंचल पौधों से सजाओ,

विकास का पहिया चले खूब धरा पर,

लेकिन हरित सम्पदा को भी बचाओ।

आज धरा पर ऑक्सीजन संकट आया,

कितनी जिंदगियों को मौत नींद सुलाया,

प्रदूषण ने फेफड़ों को बरबाद है किया,

शुद्ध वायु की कमी से यह मंजर है आया।।

*ओम प्रकाश श्रीवास्तव ओम*

तिलसहरी कानपुर नगर

Popular posts
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
हँस कर विदा मुझे करना
Image
सफेद दूब-
Image
नारी शक्ति का हुआ सम्मान....भाजपा जिला अध्यक्ष
Image