अशेष शुभ कामनाएँ

 प्रिय चिंतन और रचिता को 

----------------------------------

परिणय -बंधन -बेला की  

----------------------------

अशेष शुभ कामनाएँ 💐

-----------------------------


जीवन में तुम्हारे सदा 

सुख -सौभाग्य सूर्य उदय हो। 

आंखों में सपन सुनहरे, 

गति के समक्ष एक लक्ष्य हो। 

प्रेम और विश्वास लिए, 

अधरों पर मंद हास लिए, 

प्रतिपल जीवन का मंगलमय 

मधुमय, सरस, सुंदर हो। 🌷


ईश्वर की अनुकंपा तुम पर सदा बनी रहे। 🌷🧆🎂


सस्नेह 


वीणा गुप्त 

सतीश गुप्ता। 

नारायणा विहार

नई दिल्ली- 28

11मई 2021

Popular posts
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
गीता सार
भिण्ड में रेत माफियाओं के सहारे चुनाव जीतने की उम्मीद ?
Image
सफलता क्या है ?
Image