मुलाकात

उदय किशोर साह

कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

पूनम की खूबसूरत ये रात

चाँदनी भी देख मुस्कुराये

ये पल जीवन में यादगार बन जाये


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

खट्टी मीठी बन जाये ये याद

कुछ तुम कहना कुछ हम कहते

तेरी बाँहों में गुजर जाये ये रात


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

जीवन में बन जाये यादों की रात

पलकों में बिठा कर ले जाऊँ

दुल्हन बना माँग सजा जाऊँ


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

बहकाये मुझे तेरी अदा पे आज

मत शरमाओ तुम मेरे हमदम

तेरी जुल्फों में बीत जाये ये रात


कुछ पल की ये तेरी मुलाकात

दिल को ठंडक देती है आज

चन्दन सी तेरी बदन की खुशबू

महकाये गुलशन को अब दिन रात


कुछ पल की तेरी ये मुलाकात

पपीहा गाये प्यार की हो बरसात

पूरवईया संगीत बजाये जब जब

जवाँ चमन गाये गीत दिन रात


उदय किशोर साह

मो० पो० जयपुर जिला बाँका बिहार

9546115088

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
जीवीआईसी खुटहन के पूर्व प्रबंधक सह पूर्व जिला परिषद सदस्य का निधन
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
साहित्यिक परिचय : श्याम कुँवर भारती
Image