हाइकु



अमृता पांडे

  फैला सन्नाटा

भयावह मंजर 

   शामोसहर। 


  ए मन मेरे

तू यूं हताश ना हो

   बांध हिम्मत। 


  थम जाएगी 

कोरोना की लहर 

   धीरज धर। 


   अमृता पांडे

हल्द्वानी  नैनीताल

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
भगवान परशुराम की आरती
Image
पुराने-फटे कपड़े से डिजाइनदार पैरदान
Image