नियति

सुनीता जौहरी

पाथेय लेकर जो चला हैं

शाम को लौट आएगा 

बड़ा कीमती पल जीवन का

जो होगा देखा जाएगा ।


जीते रहो हर पल जियो 

ना सोचो कल क्या होगा

खुशी तो एक एहसास है

जो ढूंढने से मिल जाएगा

बड़ा कीमती पल जीवन का

 जो होगा देखा जाएगा ।

  

जो बीत गया सो बीत गया

जो होगा वह भी नियति है

ना कर सका है कोई बस में 

जीवन को ना तू कर पाएगा

बड़ा कीमती पल जीवन का

जो भी होगा देखा जाएगा ।


जाना है एक दिन सबको

कोई यहां ना रुक पाएगा 

कुछ कर जीवन में ऐसा बंदे 

हर दिल में खुद को पाएगा

बड़ा कीमती पल जीवन का

जो भी होगा देखा जाएगा ।

 _____________________

सुनीता जौहरी

वाराणसी उत्तर प्रदेश

Popular posts
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं यमुनानगर हरियाणा से कवियत्री सीमा कौशल
Image
पापा की यादें
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं लखीमपुर से कवि गोविंद कुमार गुप्ता
Image
सफेद दूब-
Image