देवदूत बन कर आ जाओ

 उदय किशोर साह

देवदूत बन कर आ जाओ

जग को नई राह दिखला जाओ

गरीबों को भी गले से लगा जाओ

कभी देवदूत बन धरा पे आ जाओ


देवदूत बन कर आ जाओ

नारी को सुरक्षा कवच पहना ज़ओ

वहशी को ठिकाने लगा जाओ

आतताईयों को जहन्नुम पहुँचा जाओ

कभी देवदूत बन धरा पे आ जाओ


देवदूत बन कर आ जाओ

अबला को सबल बना जाओ

निर्बल का सहारा तूँ बन जाओ

अपंग को बैशाखी तो दे जाओ

कभी देवदूत बन धरा पे आ जाओ


देवदूत बन कर आ जाओ

अज्ञानी को ज्ञान की पाठ पढ़ा जाओ

मूरख को विद्वान बना जाओ

तम को जग से मिटा जाओ

कभी देवदूत बन के धरा पे आ जाओ


चमन में खुशियॉ बरसा जाओ

अमन चैन की फूल खिला जाओ

अन्याय को दफन करा जाओ

कभी देवदूत बन के धरा पे आ जाओ


देवदूत बन कर आ जाओ

बुजुर्गों को सम्मान दिला जाओ

आशा की चिराग जला जाओ

वैमनस्यता को जड़ से मिटा जाओ

कभी देवदूत बन के धरा पे आ जाओ

उदय किशोर साह

मो० पो० जयपुर जिला बाँका बिहार

9546115088

Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
भगवान परशुराम की आरती
Image
पुराने-फटे कपड़े से डिजाइनदार पैरदान
Image