वो कहते हमसे



पिंकी सिंघल

क्या बात हुई जो हम पर अब लिखते नहीं हैं आप

है खता हुई कोई हमसे या हमें भूल गए हैं आप


पहले तो हर तराना मेरा होता था जो गाते थे आप

पागल इस दिल पर मेरे करते थे राज बस आप


फिक्र नहीं हमें आपकी अब न कहना कभी ये आप

दिन हो या रात ख्यालों में मेरे रहते हो आप ही आप


देखो कभी भी हमसे अब दूर नहीं जाना आप

आप तो जिंदा रह लोगे हम रह पाएंगे न बिन आप


पिंकी सिंघल

अध्यापिका

शालीमार बाग दिल्ली

Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
सफेद दूब-
Image
अभिनय की दुनिया का एक संघर्षशील अभिनेता की कहानी "
Image
स्वयं सहायता समूह ग्राम संगठन का गठन
Image
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image