सौतेली माँ

 

मीना माईकेल सिंह

अरे देखो! किशन ने शादी कर ली!अब बेचारी मनीषा का क्या होगा? बेचारी......

भीड़ को चीरती यह आवाज सुनेहा के कानों में पिघले शीशे की भाँति पड़ी। वह असहाय नेत्र से मुड़कर पीछे की ओर देखा।सबकी नजर उसे भेद रही थी। किशन की दूसरी पत्नी थी वह।पहली पत्नी के गुजर जाने के बाद अपनी बेटी के देख-रेख के लिये उसने दूसरी शादी की थी।

    सुनेहा को हमेशा ताने सुनने पड़ते थे।सौतेली माँ जो है।लेकिन समय ने यह बता दिया कि हर सौतेली माँ बुरी नहीं होती है।घटना यह घटी कि मनीषा जो अभी केवल सात साल की थी तालाब किनारे खेल रही थी।अचानक खेल-खेल में वह फिसल गई और तालाब में डूबने लगी।चारों ओर हंगामा मच गया लेकिन बच्ची को बचाने के लिये कोई नहीं गया।जब सुनेहा ने आवाज सुनी तो घर के बाहर आई और अपनी बेटी को डूबते देख भय से कांप गई।उसे तैरने नहीं आता था।उसने सभी लोगों के हाथ पैर जोड़े अपनी बच्ची को बचाने के लिये।लेकिन कोई सामने नहीं आया सहायतार्थ।उससे रहा नहीं गया और वह मनीषा बचाने के लिये खुद की जान जोखिम में डाल दी और तालाब में कूद गई।किसी तरह वह मनीषा को खींच कर किनारे लाई।जहाँ से लोगों ने उसे बाहर निकल लिया।लेकिन......

वह खुद को बचाने हेतु कोशिश बहुत की।वह इतनी थक गई कि उसके हाथ पांव जबाब दे दिए।वह खुद को बचा नहीं पाई और तालाब में डूबने लगी।सभी लोग तमाशा देख रहे थे कोई मदद को आगे नहीं आ रहा था।

     उसी समय किशन घर आया और जब यह सब देखा तो उसे साँप सूंघ गया।वह भागता हुआ गया और अपनी पत्नी को बाहर निकाला।उसकी साँसे बहुत धीमी चल रही थी।तुरंत उसे अस्पताल पहुँचाया गया लेकिन शायद उस समय तक उसकी साँसे साथ न दे सकी।और वह हमेशा के लिये जा चुकी थी।

     सभी हतप्रभ रह गए ।यह क्या? यह तो सौतेली थी लेकिन उसने अपनी सौतली बेटी को बचाने के लिये स्वयं के प्राण उत्सर्ग कर दी।दूर तक किशन की रोने की आवाजें गूँज रही थी.....सुनेहा....सुनेहा...

सभी अवाक, मूक देख रहे थे कि सौतेली माँ ऐसी भी होती है!मनीषा ने भी आँखे खोली और पुकारा माँ, माँ लेकिन माँ तो बहुत दूर जा चुकी थी... बहुत दूर,बहुत दूर......


स्वरचित--मौलिक रचना

मीना माईकेल सिंह✍️

कोलकाता

Popular posts
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
गीता सार
सफलता क्या है ?
Image
श्री लल्लन जी ब्रह्मचारी इंटर कॉलेज भरतपुर अंबेडकरनगर का रिजल्ट रहा शत प्रतिशत
Image