पावन परिणय दिवस की पवित्र शुभकामनाएँ

 


सात जन्म का प्रेम हमारा, साथ जन्म का साथ।

सात जन्म तक बने  रहेंगे, साथ निभाते हाथ।

एक - दूसरे हेतु बने हम, अक्षय शाश्वत  संग-

सात जन्म तक उन्नत होंगे, हम दोनों के माथ।।

रीमावधेश 

दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह परिवार की ओर से अवधेश जी और रीमा जी को वैवाहिक वर्षगांठ की हार्दिक शुभकामनाएं बहुत बहुत बधाई  

शिवेश्वर दत्त पाण्डेय                    सुबाश चंद्र पाण्डेय

समूह सम्पादक                                  प्रधान सम्पादक 

                  दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
प्रेरक प्रसंग : मानवता का गुण
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
भैया भाभी को परिणय सूत्र बंधन दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image