महिला मिशन शक्ति सिर्फ छलावा साबित हु ई

 



संवाददाता  शिवबालक गौतम

मोहनलालगंज लखनऊ भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक के बैनर तले महिला कार्यकर्ताओं ने तहसील परिसर में धरना प्रदर्शन कर अपनी समस्याओं की लड़ाई लड़ना स्वयं शुरू कर दिया है ,प्रदेश सरकार भले ही महिला मिशन शक्ति चला ले लेकिन सब बेकार साबित हो रही है। मोहनलालगंज तहसील क्षेत्र धन्नो पत्नी अशोक कुमार  देवती थाना नगराम ने आरोप लगाया कि सुनीता पत्नी बाबूलाल ,दिलीप कुमार, सत्रोहन आदि ने मेरे घर पर अवैध कब्जा कर लिया जबकि पूर्व प्रधान  महेश गुप्ता ने 1997 में भूमि का पट्टा किया था एवं लेखपाल ने भी जांच कर  लिखित रूप से जांच में मुझे  दिया था लेकिन फिर भी पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। मोहनलालगंज कोतवाली क्षेत्र माधो खेड़ा की सुधा पत्नी बबलू ने आरोप लगाया कि आबादी की भूमि पर पिछले 20 वर्षों से कब्जा है लेकिन पड़ोसी उमेश पुत्र दुलारे पुत्र प्यारे ने जबरन मेरी भूमि पर बांस बल्लियों के सहारे कब्जा करने लगे तो पुलिस से शिकायत की तुरंत तो पुलिस ने रोक दिया  परंतु 12 अक्टूबर 2020 को पुलिस से सांठगांठ कर पुनः जबरन कब्जा कर लिया विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी जिससे पूरा परिवार डरा सहमा हुआ है जबकि प्रदेश सरकार मिशन शक्ति की बात करती है लेकिन महिलाओं की सुरक्षा नहीं हो रही है। वहीं रायभान खेड़ा गांव की फुलवसा पत्नी स्वर्गीय लक्ष्मी नारायण ने आरोप लगाया कि  तहसीलदार न्यायिक मोहनलालगंज के न्यायालय में मुकदमा पंजीकृत है पेशी चल रही है फिर भी ननकई पुत्री लक्ष्मी नारायण के नाम जबरन आदेश कर दिया और मुझे तारीख पर तारीख देते रहे जिसका मुकदमा धारा 35 (2 )उ प्र रा स 2006 न्यायलय आदेश न्यायिक तहसीलदार  दिनांक 16 जनवरी 2021 फुल वासा बनाम लक्ष्मीनारायण वाद संख्या 2020 10460 300 800  धारा 34 उ प्र रा स 2006 दर्ज है जिसकी शिकायत भी की, परंतु तहसीलदार न्यायिक ने मेरी एक नहीं सुनी विरोधियों के पक्ष में आदेश कर दिया और मुझे तारीख पर तारीख देते रही हम लोगो का धरना जारी रहेगा।उपजिलाधिकारी विकास कुमार सिंह ने बताया कि मामला  न्यायलय में दो दिन पूर्व दर्ज कराया गया है ,सुनवाई के बाद ही वास्तविकता पता चलेगी ।

Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
अभिनय की दुनिया का एक संघर्षशील अभिनेता की कहानी "
Image
भोजपुरी के दू गो बहुत जरुरी किताब भोजपुरी साहित्यांगन प 
Image
डॉ.राधा वाल्मीकि को मिले तीन साहित्यिक सम्मान
Image