70 से ज्यादा भोजपुरी फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं कॉमेडियन अनूप तिवारी






मनीष कुमार दूबे ब्यूरो चीफ 

जौनपुर। जनपद में प्रतिभाओं की कमी नहीं है। जिले के लोग हर क्षेत्र में प्रदेश से लेकर देश स्तर तक अपना परचम लहराते हुए जौनपुर का नाम रोशन कर रहे हैं। जनपद का एक बेहतरीन भोजपुरी एक्टर जो एक छोटे से गांव से निकलकर भोजपुरी फिल्मों में शानदार कॉमेडी रोल करके दर्शकों का चहेता बन गया है जिसे लोग आज कामेडियन अनूप तिवारी लोटा के नाम से जानते हैं। सरपतहां थाना क्षेत्र के लोढ़िया गांव के चन्द्र भूषण तिवारी के सबसे छोटे पुत्र अनूप तिवारी लोटा इस समय भोजपुरी फिल्मों में बेहतरीन कॉमेडियन के लिए जाने जा रहे हैं। सन् 2003 में लखनऊ विश्वविद्यालय से मॉस कम्यूनिकेशन की पढ़ाई करने के बाद अनूप तिवारी लोटा मुंबई के लिये निकले। उस समय अनूप तिवारी लोटा को मुंबई में रहने तक के लिये कोई सहारा नहीं था। फिर भी इस कलाकार ने आशा की दीप लिये अपने जीवन से संघर्ष करते हुए सब चैनल के सीरियल ‘सिफारशी लाल’ में रोल पाया। उसके बाद स्टार प्लस के प्रसिद्ध टीवी सीरियल कुमकुम, जमीं से आसमा तक, मंगलम दंगलम, दूरदर्शन के उर्मिला में अभिनय किया। इन सीरियल को करने के साथ ही अनूप तिवारी लोटा को एक नई पहचान मिल चुकी थी। इसके बाद सन् 2010 में भोजपुरी फिल्म डोली चढ़के दुल्हन ससुराल चलनी में पवन सिंह के साथ कॉमेडी रोल मिला। इस फिल्म में लोटा तिवारी एक पुरोहित के रोल में थे। इस रोल को देखने के बाद अनूप तिवारी लोटा ने भोजपुरी फिल्म बनारस वाली, जिद्दी आशिक, दिनेश लाल यादव की सुपरहिट फिल्म पटना से पाकिस्तान, मुकद्दर का सिकंदर, खेसारी लाल यादव की जानेमन, आतंकवादी, पवन सिंह के साथ भोजपुरिया राजा, सत्या समेत लगभग 70 भोजपुरी फिल्मों में बेहतरीन कॉमेडी रोल किया। अनूप अपने बेहतरीन कॉमेडी से भोजपुरी फिल्मों के दर्शकों को गुदगुदाने का कार्य कर रहे हैं। अभी हाल ही में टीवी सीरियल हप्पू की उल्टन पलटन, जीजा जी छत पर है व पद्मावतर श्री कृष्ण में बेहतरीन अभिनय कर रहे हैं। अनूप तिवारी की आने वाली भोजपुरी फिल्में मेरा भारत महान, आई मिलन की रात, फर्ज, जान व तू निकला छुपा रुस्तम है। उक्त फिल्मों में से मेरा भारत महान की शूटिंग इन दिनों जौनपुर में ही की जा रही है। आरा गांव में शूटिंग के दौरान पत्रकार वार्ता में अनूप तिवारी ने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं जौनपुर का बेटा हूं और मुझे अपने ही जिले में शूटिंग करते समय बहुत खुशी मिल रही है। उन्होंने अपनी सफलता के पीछे अपने बड़े भाई ज्ञानेंद्र तिवारी व मनीष तिवारी को बताया। अनूप तिवारी लोटा ने कहा कि हमारे जनपद से कोई भी प्रतिभावान कलाकर भोजपुरी इंड्रस्टी में आना चाहे तो उसका हरसंभव पूर्ण रूप से मदद करूंगा।


Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
अभिनय की दुनिया का एक संघर्षशील अभिनेता की कहानी "
Image
भोजपुरी के दू गो बहुत जरुरी किताब भोजपुरी साहित्यांगन प 
Image
डॉ.राधा वाल्मीकि को मिले तीन साहित्यिक सम्मान
Image