फुटबॉल खिलाड़ी गोलकीपर की बिमारी के कारण हुई मौत

 फुटबॉल खिलाड़ी गोलकीपर की बिमारी के कारण हुई मौत


 


दरभंगा। अपने बदौलत विपक्षी टीम को बांध देने वाले हरफनमौला खिलाड़ी की हुई मौत , मौत के बाद खिलाड़ियों मे दौङ गई एक शोक की लहर क्षेत्र के बहुआरा बुजुर्ग गांव के ( N. S. S ) न्यू स्पोर्ट क्लब बहुआरा के एक खिलाड़ी की मौत रविवार को देर रात हो गई प्राप्त जानकारी के अनुसार मो० अंजार के पुत्र इंटर का छात्र मो० सितारे ( 20 वर्ष ) की मौत बिमारी के कारण हो गई। किसी ने यह नहीं सोचा था कि सितारे की मौत हो जाएगी लेकिन जो भाग्य मे लिखा था कुदरत को जो मंजूर था बस वही हुआ और अचानक सितारे की तबियत रविवार की। रात बिगङी अनन फानन मे अस्पताल पहुंचाया गया वहाँ से तुरंत पटना रेफर कर दिया गया और हाजीपुर पहुंचते पहुंचते सितारे ने इसी बीच पटना पहुंचने से पहले आखिरी सांस ले ली और इस दुनिया से चल बसे इधर सोमवार को मो० सितारे के गांव बहुअारा बुजुर्ग मे यह खबर एक आग की तरह फैल गई और गम का माहौल हो गया मौत के बाद सितारे की माँ कौसर खातून का रो रो कर बुरा हाल है सितारे पांच बहन और चार भाई थे। मौत के बाद भाई निजामुद्दीन उर्फ सद्दाम , मो० गुलाब , मो० फरीद तीनों अपने भाई को भूल नहीं पा रहे हैं। उनकी माने तो जैसे भाई उसके सामने है। बात करें सितारे के खेल की अगर तो वह फुटबॉल के शौकीन थे। और गोलकीपर जाने माने थे। कई बार जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिता मे शामिल हुए थे। अपने टीम की ओर से गोलकीपर का पोस्ट संभाला करते थे। न्यू स्पोर्ट क्लब बहुआरा फुटबॉल टीम के क्लब अध्यक्ष मीर मो० शहनवाज सहित खिलाड़ी मो० मकबूल , मो० नासिर , मो० अनस , मो० शौकीन , मो० दिलशाद , आदि ने दुख प्रकट किया। मिथिला स्पोर्ट क्लब दरभंगा टीम के प्रभारी दिनेश कुमार पंडित ने बताया की खेल बहुत ही शानदार खेला करते थे। बहुत ही दुख हुआ जब मो० सितारे के मौत की खबर आई उसका एक अच्छा फुटबॉलर बनने का सपना था जो पूरा नहीं हो पाया साथ ही दुख प्रकट किया । सोमवार को नम आंखो से ग्रामीणों ने गांव के ही कब्रिस्तान मे असर की नमाज के बाद सितारे को सुपुर्दे खाक किया।

Popular posts
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं लखीमपुर से कवि गोविंद कुमार गुप्ता
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
मैं मजदूर हूँ
Image