लंदन के अविजित बेड़ा जे, सरयू धारा में बोर देहल।  आई ना जय-जय कार करीं,ओ फतेह बहादुर शाही के।।

दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह के फेसबुक पेज पर लाईव एकल कविता पाठ का शुभारंभ



प्रियंका चौरसिया


दि ग्राम टुडे प्रकाशन समूह के फेसबुक पेज पर लाइव एकल कविता पाठ का शुभारंभ गाजीपुर उत्तर प्रदेश के प्रख्यात कवि संजीव कुमार त्यागी के कविता पाठ से हुआ।


संजीव कुमार त्यागी ने 1 घंटे तक अपनी कविताओं के माध्यम से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया । आपके द्वारा भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के पहले नायक, अमर सेनानी,सारण्य सम्राज के राजा, तमकुही राज के जनक, परम प्रतापी, युग यशस्वी, अतुलनीय शौर्य और पुरुषार्थ के प्रतिमान, अपराजेय योद्धा, परम श्रद्धेय महाराजा फतेह बहादुर शाही जी की अमर गाथा को अद्भुत और अनुठी शैली में शानदार प्रस्तुति दी गई । इसी के साथ भगवान भोलेनाथ पर अपने ही अंदाज में पढ़ी गई रचना को भी काफी सराहा गया।


एकल कविता पाठ में श्री त्यागी द्वारा प्रस्तुत रचनाओं की कुछ झलकियां 


 


हे महादेव हे महाकाल हे शिव शंकर हे सृष्टि पाल।।


 


पनघट पायल पंछी पीपल पंचायत की ठाँव, यह सब छोड़ के कहां आ गया देखो मेरा गांव।।


 


तब जाकर मैं यह मानूँगा कि आज तिरंगा फहरा है।।


 


लंदन के अविजित बेड़ा जे, सरयू धारा में बोर देहल।


 आई ना जय-जय कार करीं,ओ फतेह बहादुर शाही के।।


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
आपका जन्म किस गण में हुआ है और आपके पास कौनसी शक्तियां मौजूद हैं
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
साहित्यिक परिचय : नीलम राकेश
Image