बेरोजगारी व निजीकरण के विरोध में सपा कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन


शिवम त्रिवेदी


बहराइच। सपा के सभी फ्रंटल संगठनों ने सोमवार को केंद्र व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों, बेरोजगारी व निजीकरण के विरोध में जुलूस निकालकर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा।


सपा के युवजन सभा, लोहिया वाहिनी, मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड व छात्रसभा के पदाधिकारी व कार्यकर्ता पार्टी के जिला कार्यालय पर एकत्रित हुये। यहां से कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश व प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर बेरोजगारी व निजीकरण आदि समस्याओं को लेकर केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ जुलूस निकाला। जुलूस कलेक्ट्रेट परिसर में आकर समाप्त हुआ।यहां जनसभा को संबोधित करते हुए मुलायम यूथ ब्रिगेड के जिलाध्यक्ष अजितेश पांडेय मनी ने कहा कि देश व प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी है। तब से नौजवान बेरोजगारी की मार झेल रहा है। खाद-बीज के दाम आसमान छूने से किसान बेहाल व परेशान हैं। शिक्षा का बाजारीकरण चरम पर है।


 


मध्यम वर्ग परिवार के बच्चे मंहगी शिक्षा होने के नाते उच्च शिक्षा प्राप्त करने असमर्थ नजर आ रहे हैं। छात्रसभा के निवर्तमान जिलाध्यक्ष नंदेश्वरनंद यादव ने कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार पूंजीपतियों के हाथ का खिलौना बनी हुई है। पूंजीपतियों के इशारे पर सरकारी विभागों का निजीकरण किया जा रहा है। निजीकरण से रोजगार समाप्त होते जा रहे हैं।


 


सरकार साजिश के तहत दलित व पिछड़ों के आरक्षण के साथ छेड़छाड़ कर उसे समाप्त करने की कोशिश में है। सरकार ने प्रदेश में दलित छात्रों को बीएड में मिल रहे नि:शुल्क प्रवेश को भी समाप्त कर दलितों के साथ छलावा किया है।


जनसभा को युवजन सभा के जिलाध्यक्ष मोहम्मद अफसाल शानू व लोहिया वाहिनी के जिलाध्यक्ष प्रदीप वर्मा ने भी संबोधित कर केंद्र व प्रदेश सरकार की आलोचना की। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के राज्यपाल को संबोधित छह सूत्री ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट को सौंपकर गन्ना किसानों का बकाया भुगतान, किसान दुर्घटना बीमा की राशि 10 लाख किये जाने, खाद-बीज के दाम कम करने, शिक्षा के बाजारीकरण पर अंकुश, बेरोजगारों को रोजगार मुहैया कराने, निजीकरण का खेल बंद करने, बीएड में दलित छात्रों को नि:शुल्क प्रवेश दिलाने और दलित व पिछड़ों के आरक्षण को कमजोर न करने आदि की मांग की। इस मौके पर बाबू खान, धनंजय सिंह, राहुल गौतम, रामकुमार यादव, पंकज सिंह, रईस खान, रत्नेश मिश्रा, आसिफ अलवीरा, नौशाद खान, शुऐब अंसारी, राज यादव, नवीन शुक्ला, रत्नेश मिश्रा, विशाल शर्मा आदि मौजूद रहे।


Popular posts
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
सफेद दूब-
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
मतभेद
Image
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image