अब पढ़ेगा इंडिया और आगे बढ़ेगा इंडिया


जाग उठा ये भारत देश,


देने सबको ये संदेश,


कि अब पढ़ेगा इंडिया और आगे बढ़ेगा इंडिया!


 


देश के भविष्य रुपी पौधों को सींचकर,


भारत को विश्वगुरु बनाने के हेतु कार्यरत रहकर,


अब पढ़ेगा इंडिया और आगे बढ़ेगा इंडिया!


 


देश को ऊँचाइयों तक पहुँचाने में अग्रसर,


हमारा ये परम दायित्व है मित्रवर,


कि अब पढ़ेगा इंडिया और आगे बढ़ेगा इंडिया!


 


हर क्षेत्र में स्वयं को आत्मनिर्भर बनाकर,


तथा सम्मान से अपना शीष उठाकर,


अब पढ़ेगा इंडिया और आगे बढ़ेगा इंडिया!


 


~रूना लखनवी


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
आपका जन्म किस गण में हुआ है और आपके पास कौनसी शक्तियां मौजूद हैं
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
साहित्यिक परिचय : नीलम राकेश
Image