तुम लाख कोशिश कर लो हम न बदलेंगे

मुस्कुराते हैं होंठ और सदा मुस्कुराते रहेंगे।
तुम लाख कोशिश कर लो हम न बदलेंगे।


कितनी ही बाधाएं आईं राहों में मगर देखो;
हम मंज़िल की तलाश में यूंही बढ़ते रहेंगे।
तुम लाख कोशिश.......


वक्त बदला और बदले हालात देखते देखते;
न छोड़ी राह सही और न ग़लत कभी  सहेंगे।
तुम लाख कोशिश......


अपने उसूलों की खातिर खोया बहुत कुछ मगर ;
समझोता न गल्त से किया है कभी और न करेंगे।
तुम लाख कोशिश .......


कामनी गुप्ता
जम्मू !


Popular posts
दि ग्राम टुडे न्यूज पोर्टल पर लाइव हैं अनिल कुमार दुबे "अंशु"
Image
हँस कर विदा मुझे करना
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image
अंजु दास गीतांजलि की ---5 ग़ज़लें
Image
नारी शक्ति का हुआ सम्मान....भाजपा जिला अध्यक्ष
Image