टाटा:श्रेष्ठता की झलक" जमशेदपुर के संस्थापक और समस्त जमशेदपुर वासियों को समर्पित

 


*गुरुचरण महतो द्वारा रचित "टाटा:श्रेष्ठता की झलक" को यूट्यूब,फेसबुक और व्हाट्सएप के तमाम ग्रुपों में किया जा रहा है पसंद और शेयर*


जमशेदपुर:शहर के बारीडीह निवासी युवा कवि गुरुचरण महतो ने 3rd मार्च (जमशेदपुर शहर के संस्थापक के जयंती-संस्थापक दिवस) के उपलक्ष्य में एक स्वरचित कविता *टाटा:श्रेष्ठता की झलक* लिखा है। इस कविता के माध्यम से उसने जमशेदपुर शहर की विकास गाथा को बहुत ही बारीकी से क्रम दर क्रम व्याख्या किया है।जमशेदपुर के धार्मिक,सामाजिक और सांस्कृतिक विविधता के साथ-साथ यहां के औद्योगिक विकास,विश्वास,आधुनिकीकरण और सुरक्षा का भी जिक्र किया है।टाटा स्टील के एलडी3-टीएससीआर विभाग में स्थायी कर्मचारी के तौर पर कार्यरत गुरुचरण महतो ने बताया कि यह कविता जमशेदपुर शहर के संस्थापक स्वर्गीय जमशेदजी नौसरवानजी टाटा को श्रद्धांजलि देते हुए समस्त जमशेदपुर वासियों को समर्पित किया है।कविता के अंतिम हिस्से में उन्होंने शहर व देश के तमाम नागरिकों से आग्रह किया है कि तन-मन से एक साथ सब मिलकर अपने-अपने शहरों को हरा-भरा और स्वच्छ रखने तथा एक खुशहाल विकसित देश का सृजन करने में अपनी जिम्मेदारी निभाएं।इस कविता को फेसबुक और व्हाट्सएप पर तमाम ग्रुपों में खूब पसंद और शेयर किया जा रहा है।कवि गुरुचरण महतो ने आगे बताया कि वह टाटा स्टील और जमशेदपुर शहर की पृष्ठभूमि पर आधारित एक उपन्यास लिखने पर योजना बना रहे हैं।


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
परिणय दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
सफेद दूब-
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image