सराहनीय कार्य

 



धन्यवाद जी ।
ये सलोकता
इस उम्र में आप
जैसे बुजुर्ग सज्जन
रचनाकार दे रहे है
इसलिए आपका
हृदयतलसे आभारी हूँ । स्नेह सद्भाव मैत्री बढ़ाना ये वर्तमान की मांग है । आप ये कार्य निष्काम वृत्तिसे कर रहे है इसलिए आपको अभिवादन
और शुभ कामनाएं ।
आपका स्नेहांकित
दिवाकर


Popular posts
अस्त ग्रह बुरा नहीं और वक्री ग्रह उल्टा नहीं : ज्योतिष में वक्री व अस्त ग्रहों के प्रभाव को समझें
Image
ठाकुर  की रखैल
Image
गाई के गोवरे महादेव अंगना।लिपाई गजमोती आहो महादेव चौंका पुराई .....
Image
पीहू को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं
Image
भोजपुरी भाषा अउर साहित्य के मनीषि बिमलेन्दु पाण्डेय जी के जन्मदिन के बहुते बधाई अउर शुभकामना
Image